Wednesday

Hindi

जय भारत जय विश्व 

संसार में एक ही भाषा है विद्धमान जो है " प्रेम " यही वह भाषा है जिसे समझना और समझाना सहज है।  जन -जन के लिए। 

भारत देश में 14 सितम्बर को राष्ट्रभाषा हिंदी दिवस मनाया जाता है।  भारत के राष्ट्र भाषा हिंदी है।  हिंदी भाषा की सरलता एवं वृहदता असीम है।  

जिस प्रकार विश्व जन समुदाय में बोली जाने वाली भाषाएं आदरणीय एवं सम्मानिये है क्योंकि भाषा कोई भी हो, वह सदैव वक्ता के विचारों को वयक्त करती है " शब्दों " के द्वारा।  

हिंदी भाषा गहनतम विचारों और भावों को स्पष्टता के साथ व्यक्त करती है।  भारत देश के विभिन्न प्रांतो में विभिन्न भाषाएं भारतीयों जनो द्वारा बोली जाती है।  फिर भी प्रत्येक भारतीय इस बात का बोध रखता है कि हिंदी भारत देश के राष्ट्रभाषा है।  यह बोध ही भारत के जन -जन द्वारा दिया गया सम्मान " हिंदी " भाषा को स्वतः ही महान बना रहा है।  

भाषा को दो रूप में व्यक्त करते है।  1 - मौखिक   2  लिखित 

सांकेतिक भाषा भी एक प्रकार है।  ( symbolic Language )
भाषा का क्षेत्रीय रूप बोली कहलाता है।  
किसी प्रान्त अथवा उपप्रान्त की बोलचाल और साहित्य  रचना की भाषा उपभाषा कहलाती है।  एक उप भाषा में एक से अधिक बोलियाँ होती है।  
 उपभाषा  एवं बोलियाँ 
पूर्वी हिंदी - अवधी,बघेली , छत्तीसगढ़ी , भोजपुरी 
पश्चिमी हिंदी - ब्रज, खड़ी बोली, हरियाणवी, कन्नौजी, बुंदेली 
राजस्थानी - मेवाती , मारवाड़ी ,जयपुरी ,मालवी , हाड़ोती 
पहाड़ी - मंडियाली, गढ़वाली, कुमाँऊनी आदि 
मागधी - अंगिका, भोजपुरी, मैथिली,मगही  आदि 
बिहारी - भोजपुरी, मगधी,मैथिली आदि 


जागो जन - जन जगायो भारत 

क्रिययोयोग विज्ञान 


भारत विविध विविधताओं का देश है।  

22 भाषाओं को संविधान में मान्यता प्रदान की गई है।  

असमी , सिंधी , कन्नड़ , कश्मीरी , कोंकड़ी , मराठी , बंगाली , उर्दू , मणिपुरी , गुजरती , उड़िया तेलुगू , डोगरी , संस्कृत , हिंदी , मलयालम , बोडो , तमिल , नेपाली , पंजाबी , संथाली मैथिलि

प्रादेशिक भाषा 

कर्नाटक - कन्नड़                           केरल   - मलयालम              प० बंगाल  - बंगाली 

आंध्रप्रदेश  - तेलुगू  ु                   उड़ीशा  - उड़िया                   तमिलनाडु - तमिल 

हरियाणा -  हरियाणवी                  उ०प्रदेश - हिंदी                     गुजरात  - गुजराती 

मणिपुर  - मणिपुरी                       असम - असमिया                गोवा  - कोंकणी , मराठी 

कश्मीर - कश्मीरी                         पंजाब  - पंजाबी                   महाराष्ट्र  - मराठी  

मातृभाषा  का शाब्दिक अर्थ है  - माँ द्वारा या परिवार द्वारा बोली जाने वाली भाषा।  

" भारतीय संविधान के अनुच्छेद 343  के  अनुसार 14  सितम्बर 1949 को हिंदी भारत संघ की राजभाषा के रूप में मान्यता प्रदान के इसलिए प्रतिवर्ष १४ सितम्बर 

                               हिंदी  दिवस मनाया जाता है।     

अंतरराष्ट्रीय भाषा अभी इंग्लिश है।  

हिंदी सीखिए     क्लिक हियर  


भारत जोड़ो, संसार जुड़े 

इच्छा  को पूरा करवाना , एकता बल से होता है।  भारत एक है।  भारत के एकता , भाषा माध्यम से जुड़ना ऐसा है कि राष्ट्रभाषा का सम्मान - ज्ञान  भारतीय की शान।  


जय सरकार 

-- बांटे रेवाड़ी पुनि - पुनि आपनो ले।  

ब्लॉग सन्देश 
भारत देश,स्वतंत्र राष्ट्र का उद्घोष " जय भारत " जब जन -जन  के कंठो से स्फुटित होता है तो प्रत्येक ही भारत ( ज्ञान + रत ) हो देश को रोशन ही करता है।  
भारत देश के आध्यतमिक पथ के अभ्यास से प्राप्त विचारों को विश्व जन समूह ने स्वीकृत कर , भारत देश के प्रधान मंत्री जी के विचार सम्मान स्वरुप 

21 जून ( विश्व योग दिवस ) 

के रूप मनाया जाना।  प्रत्येक भारतीय के लिए गर्व की बात है।               

                                                                             आपको सहृदय धन्यवाद 


 

Post a Comment